logo

Petrol-Diesel Price: तेल कम्पनियों ने जारी किए आज के पेट्रोल-डीजल के दाम, यहां करें चेक

 | 
PETROL DIESEL RATE

Petrol-Diesel Price Today: आज के लिए ऑयल मार्केटिंग कंपनियों की तरफ से पेट्रोल और डीजल का भाव जारी कर दिया गया है. आज भी कीमत में किसी तरह का बदलाव नहीं हुआ है. 22 मई के बाद से यह स्थिर बनी हुई है. आज राजधानी दिल्ली में पेट्रोल का भाव 96.72 रुपए प्रति लीटर है. आर्थिक राजधानी मुंबई में एक लीटर पेट्रोल की कीमत 106.35 रुपए, कोलकाता में 106.03 रुपए और चेन्नई में 102.63 रुपए है. दिल्ली में एक लीटर डीजल का भाव 89.62 रुपए, मुंबई में 94.28 रुपए, कोलकाता में 92.76 रुपए और चेन्नई में 94.24 रुपए है. आर्थिक राजधानी मुंबई में पेट्रोल और डीजल सबसे ज्यादा महंगा है.

कैसे चेक करें अपने शहर की कीमत?

वहीं, दिल्ली में एक लीटर डीजल का भाव (Diesel Rate Today) 89.62 रुपए, मुंबई में 94.28 रुपए, कोलकाता में 92.76 रुपए और चेन्नई में 94.24 रुपए है. आर्थिक राजधानी मुंबई में पेट्रोल और डीजल (Diesel) सबसे ज्यादा महंगा है. अगर आप अपने शहर में पेट्रोल और डीजल की ताजा कीमतें देखना चाहते हैं, तो इस लिंक पर क्लिक करके चेक कर सकते हैं.

बता दें कि पेट्रोल और डीजल के भाव में आखिरी बार 22 मई को बदलाव हुआ था. उस समय सरकार ने तेल पर लगाए जाने वाली एक्साइज ड्यूटी में कटौती की थी. 22 मई के बाद से ही पेट्रोल-डीजल की कीमत में कोई बदलाव नहीं किया गया है.

देश के प्रमुख शहरों में पेट्रोल-डीजल की मौजूदा कीमतें (रुपये प्रति लीटर)

शहर    पेट्रोल    डीजल

दिल्ली    96.72    89.62

मुंबई    106.35    94.28

कोलकाता    106.03    92.76

चेन्नई    102.63    94.24

लखनऊ    96.57    89.76

जयपुर    108.48    93.72

भोपाल    108.65    93.90

बैंगलुरू    101.94    87.89

शिमला    97.30    83.22

SMS के जरिए भी देख सकते हैं भाव

आप अपने शहर में पेट्रोल-डीजल के दाम रोजाना SMS के जरिए भी चेक कर सकते हैं. इंडियन ऑयल (IOC) के ग्राहक RSP<डीलर कोड> लिखकर 9224992249 नंबर पर और एचपीसीएल (HPCL) के ग्राहक HPPRICE <डीलर कोड> लिखकर 9222201122 नंबर पर भेज सकते हैं. बीपीसीएल (BPCL) ग्राहक RSP<डीलर कोड> लिखकर 9223112222 नंबर पर भेज सकते हैं.

आपको बता दें कि तेल कीमतों में उतार-चढ़ाव देखा जा रहा है, क्योंकि रूस-यूक्रेन युद्ध के बीच रूसी तेल का नुकसान हुआ है, जिससे व्यापारियों को सप्लाई में कटौती करनी पड़ी है. इसके साथ तेल की कमजोर डिमांड की वजह से चिंताएं भी बनी हुईं हैं. युद्ध के बाद से भारत ने तीन महीने में रूस से 5.1 अरब डॉलर का पेट्रोलियम आयात किया है. आपको जानकर हैरानी होगी कि ये पहले के मुकाबले 3 गुना ज्यादा है.

सरकारी योजनाएं

सक्सेस स्टोरी