logo

यूपी में बारिश के कारण 11 लोगों की मौत, फरीदाबाद और नोएडा में कक्षा 8 तक स्कूलों को बंद करने का आदेश

Delhi News : दिल्ली और एनसीआर में लगातार बारिश हो रही है, जिसके कारण लोगों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है, भारी बारिश के कारण सड़कों पर जलभराव हो गया है, जिसकी वजह से सड़कों पर जाम जैसी स्थितियां उत्पन्न हो गई हैं...
 | 
h

Delhi News : दिल्ली और एनसीआर में लगातार बारिश हो रही है, जिसके कारण लोगों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। भारी बारिश के कारण सड़कों पर जलभराव हो गया है, जिसकी वजह से सड़कों पर जाम जैसी स्थितियां उत्पन्न हो गई हैं। वहीं फरीदाबाद और नोएडा जैसे शहरों में कक्षा 8 तक स्कूलों को बंद करने का निर्देश जारी किया गया है। मौसम विभाग ने शुक्रवार 23 सितंबर को भी भारी बारिश होने की चेतावनी दी है।

यूपी में बारिश के कारण 11 लोगों की मौत

बता दें गुरुग्राम में ऑफिस जाने वालों को घर से ही काम करने का परामर्श दिया गया है। गुरुग्राम में लगातार बारिश के कारण भीषण जल जमाव के बीच दिल्ली गुरुग्राम एक्सप्रेस-वे पर भीषण जाम की स्थिति देखने को मिली। पुलिस ने ट्विटर पर लोगों से अनुरोध किया कि वे बहुत जरूरी काम होने पर ही अपने घरों से निकले वहीं दूसरी और यूपी में कई दिनों से लगातार हो रही बारिश में अब तक 11 लोग अपनी जान गवा चुके हैं।

 

 

मणिपुर में भूकंप के तेज झटके

जहां देश के कई राज्यों में बारिश ने कोहराम मचाया हुआ है वहीं मणिपुर में भूकंप के तेज झटके महसूस किए गए। 23 सितंबर को मोइरांग से 100 किलोमीटर साउथ ईस्ट में सुबह 10 बजे के आसपास भूकंप की रिक्टर स्केल पर तीव्रता 4.5 रही। समाचार एजेंसी एएनआई ने नेशनल सेंटर फॉर सिस्मोलॉजी के हवाले से यह जानकारी दी है। फिलहाल इसमें किसी के हताहत होने की जानकारी नहीं है।

इससे पहले भी यूपी में भयानक हादसा

एनसीआर और उत्तर प्रदेश के नोएडा, अलीगढ़, कानपुर, सीतापुर, लखनऊ, बहराइच जैसे जिलों भारी बारिश को लेकर अलर्ट जारी किया गया है। बता दें कि बच्चों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए जिला प्रशासन की तरफ से यह फैसला लिया गया है। इससे पहले यूपी केइटावा में 21 सितंबर की रात एक मकान की दीवार ढह जाने से एक ही परिवार के चार भाई बहनों की मौत हो गई। अलीगढ़ प्रशासन ने दो दिनों के लिए स्कूलों को बंद करने के आदेश दिये हैं। उत्तराखंड में पहाड़ दरकने से कई हाइवे बंद हो गये। मध्य प्रदेश के शहडोल संभाग के अनूपपुर में भारी बारिश की वजह से बड़ा हादसा होते-होते बचा। वहां सोन नदी पर पुल नहीं होने की वजह से बच्चे नाव से उस पार स्कूल जा रहे थे, बीच में नाव पलट गई। हालांकि सभी बच्चे सुरक्षित बच गये।

Delhi News : दिल्ली और एनसीआर में लगातार बारिश हो रही है, जिसके कारण लोगों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। भारी बारिश के कारण सड़कों पर जलभराव हो गया है, जिसकी वजह से सड़कों पर जाम जैसी स्थितियां उत्पन्न हो गई हैं। वहीं फरीदाबाद और नोएडा जैसे शहरों में कक्षा 8 तक स्कूलों को बंद करने का निर्देश जारी किया गया है। मौसम विभाग ने शुक्रवार 23 सितंबर को भी भारी बारिश होने की चेतावनी दी है।

यूपी में बारिश के कारण 11 लोगों की मौत

बता दें गुरुग्राम में ऑफिस जाने वालों को घर से ही काम करने का परामर्श दिया गया है। गुरुग्राम में लगातार बारिश के कारण भीषण जल जमाव के बीच दिल्ली गुरुग्राम एक्सप्रेस-वे पर भीषण जाम की स्थिति देखने को मिली।  पुलिस ने ट्विटर पर लोगों से अनुरोध किया कि वे बहुत जरूरी काम होने पर ही अपने घरों से निकले वहीं दूसरी और यूपी में कई दिनों से लगातार हो रही बारिश में अब तक 11 लोग अपनी जान गवा चुके हैं। 

मणिपुर में भूकंप के तेज झटके

जहां देश के कई राज्यों में बारिश ने कोहराम मचाया हुआ है वहीं मणिपुर में भूकंप के तेज झटके महसूस किए गए। 23 सितंबर को मोइरांग से 100 किलोमीटर साउथ ईस्ट में सुबह 10 बजे के आसपास भूकंप की रिक्टर स्केल पर तीव्रता 4.5 रही। समाचार एजेंसी एएनआई ने नेशनल सेंटर फॉर सिस्मोलॉजी के हवाले से यह जानकारी दी है। फिलहाल इसमें किसी के हताहत होने की जानकारी नहीं है।

इससे पहले भी यूपी में भयानक हादसा

एनसीआर और उत्तर प्रदेश के नोएडा, अलीगढ़, कानपुर, सीतापुर, लखनऊ, बहराइच जैसे जिलों भारी बारिश को लेकर अलर्ट जारी किया गया है। बता दें कि बच्चों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए जिला प्रशासन की तरफ से यह फैसला लिया गया है। इससे पहले यूपी केइटावा में 21 सितंबर की रात एक मकान की दीवार ढह जाने से एक ही परिवार के चार भाई बहनों की मौत हो गई। अलीगढ़ प्रशासन ने दो दिनों के लिए स्कूलों को बंद करने के आदेश दिये हैं। उत्तराखंड में पहाड़ दरकने से कई हाइवे बंद हो गये। मध्य प्रदेश के शहडोल संभाग के अनूपपुर में भारी बारिश की वजह से बड़ा हादसा होते-होते बचा। वहां सोन नदी पर पुल नहीं होने की वजह से बच्चे नाव से उस पार स्कूल जा रहे थे, बीच में नाव पलट गई। हालांकि सभी बच्चे सुरक्षित बच गये।

सरकारी योजनाएं

सक्सेस स्टोरी