logo

Chanakya Niti: भूलकर भी किसी को न बताएं ये तीन बातें, जिंदगी हो जाएगी बर्बाद

 | 
CHANAKYA NITI

Chanakya Niti: आचार्य चाणक्य एक ऐसी महान विभूति थे, जिन्होंने अपनी विद्वत्ता, बुद्धिमता और क्षमता के बल पर भारतीय इतिहास की धारा को बदल दिया। मौर्य साम्राज्य के संस्थापक चाणक्य कुशल राजनीतिज्ञ, चतुर कूटनीतिज्ञ, प्रकांड अर्थशास्त्री के रूप में भी विश्वविख्‍यात हुए।

इतनी सदियाँ गुजरने के बाद आज भी यदि चाणक्य के द्वारा बताए गए सिद्धांत ‍और नीतियाँ प्रासंगिक हैं तो मात्र इसलिए क्योंकि उन्होंने अपने गहन अध्‍ययन, चिंतन और जीवानानुभवों से अर्जित अमूल्य ज्ञान को, पूरी तरह नि:स्वार्थ होकर मानवीय कल्याण के उद्‍देश्य से अभिव्यक्त किया।

इसी कड़ी में आचार्य चाणक्य ने उन बातों की जिक्र किया है जिसे मनुष्य को किसी बाहर वाले के सामने जिक्र नहीं करना चाहिए। चाणक्य कहते हैं कि तीन बातों को हमेशा मन में दबाकर रखना चाहिए, इसका जिक्र दूसरों के सामने किया तो जीवन तबाह तक हो सकता है।

- आचार्य चाणक्‍य कहते हैं कि किसी मनु्ष्य को व्यापार में पैसों की हानि हो जाए तो दूसरों के सामने इसका जिक्र नहीं करना चाहिए। ऐसा करने पर आपके विरोधी आपको कमजोर मानकर आप पर हावी हो जाएंगे और दूसरे लोग आपको बेकार मानकर आपसे दूरी बना लेंगे। ऐसे में नुकसान की बात किसी को न बताएं और समाज में अपनी आर्थिक स्थिति का जिक्र ना करें।

अगर किसी की पत्‍नी में कोई ऐब या अवगुण हो, वह आपके साथ लड़ाई करे या  आपका अपमान ही कर दे लेकिन यह बात दूसरों के सामने नहीं कहनी चाहिए। ऐसा करने वाले व्यक्ति को समाज में छवि खराब होने का खतरा  रहता है औऱ दांपत्य जीवन दूसरों के लिए मजाक का विषय बन जाता है।

यदि किसी ने आपको धोखा दिया है तो भी इस बात का जिक्र दूसरों से ना करें, ऐसा करने पर लोग आपको कमजोर दिमाग या उदार समझकर आपके साथ धोखेबाजी कर सकते हैं, इसलिए ऐसी बातों का जिक्र करके अपनी छवि को कमतर नहीं करना चाहिए। इससे समाज में आपकी स्थिति कमजोर होगी और लोग आपकी बातों को भी गंभीरता से नहीं लेंगे।

सरकारी योजनाएं

सक्सेस स्टोरी