logo

हरियाणा के जींद शहर में शिक्षकों की कमी पर प्रदर्शन, निर्जन में SFI ने चिराग योजना और नई ट्रांसफर पॉलिसी पर शिक्षा मंत्री को भेजा ज्ञापन

 | 
Haryana news
हरियाणा के जींद शहर में स्टूडेंट फेडरेशन ऑफ इंडिया की जिला कमेटी ने चिराग योजना व अध्यापकों की कमी को लेकर बुधवार को गांव मे हुआ विद्यार्थियों, नौजवानों और ग्रामीणों के साथ मिल कर प्रदर्शन। स्कूल के माध्यम से शिक्षा मंत्री को ज्ञापन भेजा गया। स्कूल में कई विषय के शिक्षक न होने पर क्रोध जताया गया।
एसएफआई के जिला सह सचिव सावन ने कहा कि, गांव में सरकारी स्कूल दसवीं कक्षा तक ही है। यहां तीन गांव मांडो, खेड़ी व लखमीरवाला के विद्यार्थी पढ़ने आते हैं। स्कूल में ज्यादातर गरीब, मजदूर ,किसान के परिवारों के बच्चे पढ़ते हैं। लेकिन सरकार की नई ट्रांसफर पॉलिसी के अनुसार आपको बता दे कि इस स्कूल से 7 अध्यापकों का तबादला हुआ था।
स्कूल में 3 विषयों सामाजिक विज्ञान, संस्कृत और पीटीआई के अध्यापक ही नहीं हैं। इसके साथ अन्य नॉन टीचिंग स्टाफ की भी कमी है। जिसके कारण लगातार विद्यार्थी की संख्या कम हो रही है और गरीब परिवारों को मजबूरन निजी विद्यालयों में अपने बच्चों का दाखिला करवाना पड़ रहा है। उन्होंने कहा कि सरकारी स्कूलों में सरकार विद्यार्थियों को मूलभूत सुविधाएं न देकर चिराग योजना के तहत स्कूलों को मर्ज के नाम पर बंद कर रही है।

सरकारी योजनाएं

सक्सेस स्टोरी