logo

Free Train: देश की इकलौती ट्रेन जिसमें रोजाना फ्री में सफर करते हैं हजारों यात्री, जानिये इस ट्रेन की खास बाते

 | 
 नई दिल्ली


नई दिल्ली :- भारत में हर रोज 12.5 हजार Train यात्रियों को उनके सफर तक पहुँचाती है. देश के लगभग हर कोने में Indian Railway का नेटवर्क फैला हुआ है. भारतीय रेलवे को दुनिया का चौथा सबसे बड़ा Railway नेटवर्क माना जाता है. यदि आपने भी कभी ट्रेन में सफर किया है, तो आपको पता होगा कि ट्रेन में सफर करने के लिए टिकट खरीदनी पड़ती है. क्या आप जानते हैं कि देश में एक ट्रेन ऐसी भी है जिसमें सफर करने के लिए आपको Ticket लेने की आवश्यकता नहीं होती. आज की इस खबर में हम आपको इसी ट्रेन के बारे जानकारी देंगे, जिसके जरिए आप फ्री में सफर कर पाएंगे. 


इस ट्रेन में यात्री करते हैं फ्री सफर  

यह ट्रेन पिछले 74 सालों से रोजाना लोगों को फ्री में सफर करवा रही है. इस ट्रेन का नाम भांगड़ा- नंगल ट्रेन है. यह ट्रेन पंजाब और हिमाचल प्रदेश की सीमा पर चलती है. इस Train को भाखड़ा ब्यास मैनेजमेंट Board द्वारा नंगल और भाखड़ा के बीच चलाया जाता है. यदि आप भी दुनियाभर से मशहूर भाखड़ा नांगल बांध देखने जाएंगे, तो आप इस ट्रेन में फ्री यात्रा का लुफ्त उठा पाएंगे. भारतीय रेलवे की Website पर मौजूद जानकारी के अनुसार इस ट्रेन को साल 1948 में चलाया गया था. जब भाखड़ा नांगल बांध का निर्माण कराया जा रहा था, इस ट्रेन के संचालन की आवश्यकता महसूस हुई. 

 
1948 से चल रही है यह ट्रेन  

बता दें कि उस समय भाखड़ा और नंगल के बीच परिवहन का कोई भी साधन नहीं था. इसी वजह से बांध बनाने के लिए मशीनरी और लोगों के आने-जाने के लिए यहां रेलवे Track बनाया गया था. शुरुआत के दौर में इस ट्रेन को स्टीम इंजन के साथ चलाया जाता था, बाद में 1953 में अमेरिका से तीन डीजल इंजन लाए गए. इसके बाद से ये ट्रेनें डीजल Engine से चलने लगी. भारतीय रेलवे की तरफ से 1953 से ही ट्रेन इंजन के 5 मॉडल पेश किए गए. आज भी यह ट्रेनें 60 साल पुराने इंजन से ही चल रही है, यही इनकी सबसे खास बात है. 

रोजाना 800 यात्री करते हैं फ्री सफर 

भाखड़ा नंगल ट्रेन 18 से 20 लीटर डीजल प्रति घंटे की खपत के साथ शिवालिक पहाड़ियों से होते हुए 13 किलोमीटर की दूरी तय करती है. इस ट्रेन में रोजाना करीब 800 यात्री सफर करते हैं. इस ट्रेन से रास्ते में आने वाले कई गांव के लोग सफर करते हैं. साथ ही भाखड़ा नंगल प्रोजेक्ट के कर्मचारी, स्कूलों के छात्र और कई टूरिस्ट Train से रोजाना सफर करते हैं. इस ट्रेन में कई फिल्मों की शूटिंग भी हो चुकी है. राजेश खन्ना के फिल्म चलता पुर्जा की शूटिंग के दौरान भी इस ट्रेन का इस्तेमाल किया गया था. 

सरकारी योजनाएं

सक्सेस स्टोरी