logo

New Toll System: देश भर में खत्म होंगे टोल प्लाजा, इस सिस्टम के जरिए ऑटोमैटिक बैंक अकाउंट कटेंगे पैसे

 | 
5

नई दिल्ली, New System for Toll Plazas : भारत के टोल प्लाजा को जल्द ही ऑटो नंबर पहचान प्रणाली से बदल दिया जाएगा। इस सिस्‍टम के लागू होने से अब वाहनों की कतार नहीं लगेगी, आपके अकाउंट से ऑटोमैटिक पैसे कट जाएंगे। इस संबंध में केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने मंगलवार को इसकी जानकारी देते हुए बताया, ‘केंद्र टोल प्लाजा को ऑटोमैटिक नंबर प्लेट पहचान प्रणाली से बदलने के लिए पायलट परियोजनाओं का संचालन कर रहा है, जो वाहन मालिकों के बैंक अकाउंट से शुल्क में कटौती को सक्षम करेगा।

15 हजार करोड़ रुपए की हुई सालाना वृद्धि

New Toll System for Toll Plazas: गडकरी ने कहा कि फास्टैग की शुरुआत के बाद राज्य के स्वामित्व वाले भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (NHI) की टोल इनकम में सालाना 15 हजार करोड़ रुपए की वृद्धि हुई है। अब हम ऑटोमोबाइल नंबर प्लेट टेक्नोलॉजी लॉन्च करने जा रहे हैं। जिससे कोई टोल प्लाजा नहीं होगा।

 

47 सेंकड में पूरी हो जाएगी प्रक्रिया

New System for Toll Plazas: बता दें कि 2018-19 के दौरान टोल प्लाजा पर वाहनों के लिए औसत प्रतीक्षा समय 8 मिनट था। 2020-21 और 2021-22 के दौरान फास्टैग आने से गाड़ियों के लिए एवरेज वेटिंग टाइम घटकर 47 सेंकड हो गया है। फिर भी पीक आवर्स के दौरान टोल प्लाजा में कुछ देरी होती है।

 

 

नहीं लगेगी गाड़ियों कतार

New System for Toll Plazas : गडकरी ने कहा, ‘हम टेक्नोलॉजी का चयन करेंगे। हालांकि हमने कोई आधिकारिक निर्णय नहीं लिया है, लेकिन मेरे विचार में नंबर प्लेट तकनीक पर कोई टोल प्लाजा नहीं होगा।’ यह एक परिष्कृत कम्प्यूटरीकृत डिजिटल प्रणाली होगी। जिससे लंबी कतार नहीं लगेगी। लोगों को बड़ी राहत मिलेगी।

सरकारी योजनाएं

सक्सेस स्टोरी