logo

Success Story: 8 सरकारी नौकरी मिलने के बाद भी नहीं हुए खुश, IAS बनकर किया अपना सपना पूरा

 | 
IAS KUNAL YADAV

Success Story: रेवाड़ी शहर के शक्तिनगर निवासी कुणाल यादव ने अपनी सफलता से साबित कर दिया है कि बाधाएं आपके सपनों के आगे नहीं आ सकती हैं. उन्होंने अपनी नौकरी के साथ यूपीएससी परीक्षा की तैयारी की और उसमें सफल भी हो गए. इससे पहले वह बैंक की परीक्षा (Bank Exam) भी क्लियर कर चुके थे. IAS कुणाल यादव की सक्सेस स्टोरी (IAS Kunal Yadav Success Story) उन सभी उम्मीदवारों के लिए प्रेरणा हो सकती है, जो नौकरी के साथ यूपीएससी परीक्षा (UPSC Exam) की तैयारी करना चाहते हैं.

आईएएस कुणाल यादव रेवाड़ी के शक्तिनगर के निवासी हैं. वह शुरुआत से ही पढ़ाई में काफी होशियार थे. उन्होंने शहर के जैन पब्लिक स्कूल से कक्षा बारहवीं की बोर्ड परीक्षा में नॉन मेडिकल स्ट्रीम में जिलाभर में टॉप किया था. इसके बाद कुणाल ने दिल्ली के सेंट स्टीफन कालेज (St. Stephen College) से बीएससी की पढ़ाई पूरी की. उन्होंने नॉन मेडिकल स्ट्रीम में केमिस्ट्री की पढ़ाई की थी.

आईएएस कुणाल यादव ने साल 2015 में ग्रेजुएशन की पढ़ाई पूरी करने के बाद प्रशासनिक सेवा की तैयारी शुरू की थी. साल 2015 में उन्होंने पहली बार एसएससी सीजीएल का एग्जाम (SSC CGL Exam) क्लियर किया था लेकिन उन्हें यह नौकरी पसंद नहीं आई तो उन्होंने ज्वाइन ही नहीं किया. फिर उन्होंने भारतीय स्टेट बैंक में पीओ के पद के लिए अप्लाई किया तो इसमें भी उनका सेलेक्शन हो गया.

IAS KUMAL YADAV

कुणाल यादव ने यूपीएससी परीक्षा से पहले कई अन्य सरकारी परीक्षाएं दी थीं. स्टेट बैंक के बाद उनका चयन स्टेशन मास्टर के साथ सेना में असिस्टेंट कमांडेंट के पद पर भी हो गया था लेकिन उन्होंने दोनों ही नौकरी ज्वाइन नहीं की और यूपीएससी परीक्षा (UPSC Exam) की तैयारी में जुट गए. नौकरी के साथ वह आईएएस बनने की तैयारी में लगे रहे. साल 2018 में वह अपने पहले प्रयास में प्री परीक्षा भी क्लियर नहीं कर पाए थे.

IAS KUMAL YADAV

आईएएस कुणाल यादव ने साल 2020 में यूपीएससी परीक्षा के अपने दूसरे प्रयास में 185वीं रैंक हासिल की थी. आईएएस ट्रेनिंग (IAS Training) के बाद साल 2021 में उन्हें दिल्ली में इनकम टैक्स डिपार्टमेंट में इंस्पेक्टर पद पर नियुक्ति दी गई है. आईएएस कुणाल यादव इस बात का उदाहरण हैं कि नौकरी के साथ भी यूपीएससी परीक्षा की तैयारी की जा सकती है (UPSC Exam Preparation Tips). वह रोज़ाना 10-12 घंटे सेल्फ स्टडी किया करते थे.

सरकारी योजनाएं

सक्सेस स्टोरी