nigamratejob-logo

IAS Success Story: 23 की उम्र में बेटी UPSC में 5वीं रैंक लाकर बनी IAS, इंजीनियर पिता और टीचर मां का नाम किया रोशन

 | 
23 की उम्र में बेटी UPSC में 5वीं रैंक लाकर बनी IAS

IAS Success Story: आईएएस अधिकारी सृष्टि देशमुख ने 2018 में उन्होंने अपना पहला UPSC एग्जाम दिया था।​ 23 साल की उम्र में उन्होंने पहले ही प्रयास में पांचवी रैंक प्राप्त कर इतिहास रच दिया। महिलाओं में उनका पहला स्थान था। सृष्टि जयंत देशमुख का जन्म 18 मार्च 1955 को कस्तूरबा नगर भोपाल मध्य प्रदेश में हुआ था!

उनके पिता जयंत देशमुख पेशे से इंजीनियर हैं और मां सुनीता देशमुख है प्राइमरी शिक्षिका है। सृष्टि ने केमिकल इंजीनियर में बीटेक की डिग्री प्राप्त करने के बाद उन्होंने आईएएस एग्जाम की तैयारी शुरू कर दी। सृष्टि जयंत देशमुख के पति का नाम नागार्जुन गौड़ा है जोकि पेशे से आईएएस अधिकारी हैं।

उनके पति मूल रूप से कर्नाटक के रहने वाले हैं। दोनों की मुलाकात आईएएस प्रशिक्षण के दौरान हुई। सृष्टि देशमुख को यूपीएससी एग्जाम में कुल मिलाकर 1068 अंक प्राप्त हुए थे। वर्तमान में सृष्टि देशमुख मध्य प्रदेश के नरसिंहपुर जिले के गाडरवारा में बतौर SDM तैनात हैं।

सरकारी योजनाएं

सक्सेस स्टोरी